Sunday, May 1, 2011

.Cartoon_Utsav_Delhi_2011_post_01.

नई दिल्ली। देश की एकमात्र कार्टून पत्रिका कार्टून वाच द्वारा प्रतिवर्श आयोजित कार्टून महोत्सव इस बार  दिल्ली के हिंदी भवन  में किया गया. 29 अप्रैल 2011 को हिन्दी भवन दिल्ली में इसका उद्घाटन पूर्व राष्ट्रपति और महान वैज्ञानिक डॉ.ए.पी.जे. अब्दुल कलाम ने एक कार्टून caricature बना कर किया. इस बार कार्टून वाच की तरफ से लाईफ टाईम एचीवमेंट एवार्ड पांच वरिष्ठ कार्टूनिस्टों को दिया गया. टाईम्स आफ इंडिया समूह के अजीत नैनन, नवभारत टाईम्स के पूर्व कार्टूनिस्ट काक, मधुमुस्कान पत्रिका के नन्हा जासूस बबलू और कलमदास के रचयिता हुसैन जामिन, छत्तीसगढ के बी.वी.पांडुरंग राव और दिल्ली दैनिक जागरण के कार्टूनिस्ट जगजीत राणा को पूर्व राष्ट्रपति डॉ.ए.पी.जे.अब्दुल कलाम के हाथो द्वारा लाईफ टाईम एचीवमेंट एवार्ड प्रदान कर के सम्मानित किया गया . उल्लेखनीय है कि पूर्व के वर्षो में कार्टून महोत्सव में आर.के.लक्ष्मण, आबिद सुरती, चाचा चौधरी के जनक प्राण,  सुधीर दर, राजेन्द्र धोडपकर, एच.एम.सूदन, सुरेष सावंत और श्याम जगोता सहित अनेक कार्टून हस्तियां सम्मानित हो चुकी हैं. इस महोत्सव में देश के विभिन्न हिस्सों से कार्टूनिस्ट शामिल हुए. कार्टून वाच पत्रिका के प्रकाशन के पंद्रहवें वर्ष पर हुए  इस आयोजन के अवसर पर पत्रिका के विशेष अंक का विमोचन भी डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम द्वारा किया गया. इस अंक में इस बार सम्मानित किये जा रहे कार्टूनिस्टों के कार्टून प्रकाशित किये गए हैं.

पत्रिका के संपादक त्रयम्बक शर्मा ने कहा कि कार्टून वाच पत्रिका ने विगत पंद्रह वर्षो में छत्तीसगढ का नाम देश के अलावा विदेशो में भी रोशन किया है. लंदन में दो सप्ताह इस पत्रिका द्वारा प्रदशनी लगाई गई, सम्पादक त्रयम्बक शर्मा का साक्षात्कार बीबीसी लंदन के हिन्दी रेडियो सेवा से किया गया, शर्मा को नेपाल में आयोजित पांच देशो के कार्टूनिस्टों के सम्मेलन में आमंत्रित किया गया. हाल ही में कार्टून वाच ने दिल्ली में पहली बार आयोजित कामिक कन्वेशन - कामिकान में भी देश की एकमात्र कार्टून पत्रिका के रूप में भाग लिया था.....अगली पोस्ट में जारी...

3 comments:

ललित शर्मा said...

bahut bahut badhai, isi tarah pradesh aur desh ka nam raushan karte rahe.

aabhar

Indian Comics said...

ललित जी ......हौसला अफज़ाई के लिए बहुत बहुत धन्यवाद ....

Sanjay Polly said...

Good work